Breaking News

रायगढ: सावन महीना और काब्य गोष्ठी , महिला साहित्यकारो का काव्य गोष्ठी का आयोजन,मिनीमाता को याद कर दिए आदारजंलि अर्पित…

सावन महीना और काब्य गोष्ठी , महिला साहित्यकारो का काव्य गोष्ठी का आयोजन,मिनीमाता को याद कर दिए आदारजंलि अर्पित…
लक्ष्मी नारायण लहरे
रायगढ़। अंचल में सर्वप्रथम महिला कवयित्रियों का कार्यक्रम राष्ट्रीय कवि संगम जिला इकाई रायगढ़ के तत्वावधान में काव्य संगोष्ठी का आयोजन किया गया।कार्यक्रम में शहर के कई नामचीन नव उत्साही महिला कवयित्रियों ने काव्य पाठ किये।अक्सर देखा जाता हैं कवि सम्मेलनों में कविता प्रस्तुति के लिए अक्सर कवयित्रियां सामने आने से झिझकती हैं।कई महिला घर के कामों तक ही सीमित रहती हैं।लेकिन कल कला संस्कृति की नगरी में प्रथम अवसर ऐसा देखने को मिला। उक्त कार्यक्रम देवांगन धर्म शाला में किया गया। जिसमें कवयित्रियों के साथ -साथ कवियों द्वारा भी काव्य वर्षा की गई। रायगढ़ जिले के साथ -साथ अन्य जिलों के कवि कवयित्रियों ने पहुंचकर लगभग 25 से अधिक कवयित्रियों ने विविध विषयों पर खुलकर कविता पाठ किये। आशा मेहर जी ने सभी कवयित्रियों को मंच में आने व अपनी भावनाओं को खुलकर प्रस्तुति देने की अपील किये।मेहर जी ने बताया कि अब महिलाओं को भी आना होगा और मंचों पर भी प्रत्येक कवयित्री दमदार तरीके अपनी बात कविताओं के माध्यम से व्यक्त कर सकती हैं।वहीं कार्यक्रम में प्रतीक मेहर स्मृति कल्याण समिति की ओर से स्मृति चिन्ह व श्रीफल देकर सम्मानित भी किया गया। ।कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ माँ सरस्वती की प्रतिमा के तैलचित्र पर पूजन उपस्थित अतिथि श्रीमती इंदिरा देवांगन,रुक्मिणी सिंह राजपूत, उषा मेहर जी के आतिथ्य में पुष्प अर्पित कर व अगरबत्ती से किया गया।कार्यक्रम का संयोजन व नेतृत्व आशा मेहर जी के द्वारा किया गया। इंदिरा देवांगन जी के द्वारा छायावाद पर विस्तृत वक्तव्य दिया गया। वहीं रुक्मिणी सिंह जी ने विविध श्रृंखलाओं से रचित सुमधुर कण्ठ से कविता प्रस्तुत की।आशा मेहर जी ने बोनसाई तथा माँ पर केंद्रित कविता पाठ किये।सीतापुर से पधारी कवयित्री स्नेह लता जी ने छन्द विधाओं से युक्त कविताओं की प्रस्तुति दी।धनेश्वरी देवांगन जी ने सुमधुर गीतों से मन मोह लिए।वहीं वसुन्धरा गजेंद्र पटेल ने अपनी कोकिल कण्ठ से कविता की फुलझड़ियों से सभी के मन को आह्लादित की।सरोज साहु जी,अरुणा साहु,रीना सिंह,उनकी सुपुत्री, राखी देवांगन,शैल देवांगन,कृष्णा पटेल इत्यादि ने विविध विधाओं से रचित रचना की प्रस्तुति दिए।छत्तीसगढ़ी गीतों की गीतकारा उषा पांडेय ने भी सुंदर प्रस्तुति दिए।वही कवियों में नव सृजन साहित्य और कला मंच के अध्यक्ष वरिष्ठ कवि मनमोहन सिंह ठाकुर ने हास्य व्यंग्य के माध्यम से गुदगुदाने वाली काव्य की प्रस्तुति दिए।वही राष्ट्रीय कवि संगम के जिलाउपाध्यक्ष गुलाब सिंह कँवर ने भी गीतों की प्रस्तुति दिए। ओज के सशक्त हस्ताक्षर रामरतन मिश्रा द्वारा भी रक्त संचार करने वाली मनमोहक कविता पाठ किये।कार्यक्रम का सफल मंच संचालन कवि आनंद सिंघनपुरी द्वारा किया गया। उक्त कार्यक्रम के सफल संयोजन के लिए राष्ट्रीय कवि संगम के जिला अध्यक्ष अंजनी कुमार अंकुर,कार्यकारी अध्यक्ष प्रदीप कुमार गुमशुम,श्याम नारायण श्रीवास्तव, भानुप्रताप मिश्रा,अमित दुबे जी ने अनुकरणीय योगदान के लिए भूरी भूरी प्रशंसा कर शुभकामनाएं ज्ञापित किए।अंत में आभार प्रदर्शन शशि मेहर जी द्वारा व्यक्त कर धन्यवाद दी गई। तथा देश की प्रथम महिला सांसद ममतामयी मिनीमाता जी के पुण्यतिथि पर याद करते हुए आदरांजलि अर्पित की गई।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

सबसे पहले सारंगढ़िया, फिर विधायक-श्रीमती उत्तरी जांगड़े, मैने इस्तीफा देने का शब्द नही कहा,तोड मरोड़कर पेश किया जा रहा है मेरे बयान को,माननीय मुख्यमंत्री पर पूर्ण विश्वास, जल्द बनायेंगे सारंगढ़ जिला, जिला निमार्ण के लिये हर संभव कोशिश करूंगी…

🔊 Listen to this सबसे पहले सारंगढ़िया, फिर विधायक-श्रीमती उत्तरी जांगड़े, मैने इस्तीफा देने का …