Breaking News

बिलाईगढ (बलौदाबाजार ):बलौदाबाजार जिले की विकास खण्ड बिलाईगढ मे आधा दर्जन स्कूल  1 शिक्षक के भरोसे पर ,  बच्चों का भविष्य तीन सालो से अंधकार मे…

बलौदाबाजार जिले की विकास खण्ड बिलाईगढ मे आधा दर्जन स्कूल  1 शिक्षक के भरोसे पर ,  बच्चों का भविष्य तीन सालो से अंधकार मे…

सहदेव सिंह सिदार 

बिलाईगढ (बलौदाबाजार)। एक तरफ हर साल सरकार  शाला प्रवेश उत्सव धूम धाम से मना रहे है,  और बच्चो को नि: शुल्क पुस्तक व गणवेश दे रहे है,  यह तो सरकार की सराहनीय पहल है। पर दूसरे  तरफ स्कूलो मे शिक्षक की कमी ने  सरकार  की तमाम  योजनाओं  को कमजोर कर रखे  है। भले ही प्रदेश में बलौदाबाजार   जिला शिक्षा के क्षेत्र 5वां  स्थान पर है। लेकिन  बलौदाबाजार जिले के विकास खण्ड बिलाईगढ मे आधा दर्जन से अधिक  ऐसे स्कूल है जहाँ  तीन सालो से स्कूल एक शिक्षक  के भरोस

 पर है।  एक शिक्षक  शिक्षा  मे गुणवत्ता लाये तो लाये कहाँ,  शिक्षकों व्दारा विभाग  को बार -बार निवेदन किये जा चूके है फिर भी आज तक शिक्षक  की व्यवस्था विभाग व्दारा  नही कराये गये है।  स्कूल मे शिक्षक की कमी होने से पालक अपने बच्चे  का नाम कटवा कर दूसरे स्कूल मे दाखिल करा रहे है। सबसे बडा सवाल  यह है कि  विकास खण्ड बिलाईगढ ऐसे बहुत से स्कूल है जहाँ  शिक्षक प्राप्त हो तो हुए  एक दो  शिक्षक अधिक है, ऐसे शिक्षकों को   जिस स्कूल  मे शिक्षकों की कमी है वहां  भेजे क्यों नही जा रहे। आज तीन सालो से पूर्व माध्यमिक शाला रोहिना , जमनार , ठाकुरदीया  सहित आधा दर्जन  स्कूल एक शिक्षक के भरोसे  पर है। 

       पत्रकारों व्दारा बीईओ बिलाईगढ को मौखिक रूप से शिक्षकों व्दारा  यह समस्या से अवगत  कराये जा चूके पर बीईओ साहब आश्वासन  पर आश्वासन  दे रहे । 

   शिक्षा सत्र प्रारंभ हो चूके है बच्चो गणवेश  ,पुस्तक  सभी मिल चूके है । पर शिक्षक की कमी ने बच्चो व पालको  की मन को झकझोर रख रख दिये कि बच्चे की पढाई  कैसे होगा । जानकारी के मुताबिक बीईओ ने 12 जुलाई तक शिक्षक  व्यवस्था करने की बात कही है ,अब देखने वाली विषय यह कि बीईओ  शिक्षक व्यवस्था करते है या खाली आश्वासन देकर भूल जायेगे। 

क्या कहते है पालक..

    पालक प्रमोद साहू ने कहा कि पूर्व माध्यमिक शाला रोहिना मे 68 बच्चे अध्ययन रत है।   कई बार शिक्षा  विभाग  को अवगत कराये गये और पत्र लिखे  जा चूके है पर अधिकारियों व्दारा ध्यान  नहीं दिये जा रहे । 

जिससे स्कूल मे बच्चो की पढाई नही हो रहे है ।इसके जिम्मेदार  शिक्षा विभाग है।

क्या कहते है  प्रभारी प्रधान पाठक

पूर्व माध्यमिक शाला रोहिना के  प्रभारी  प्रधान पाठक श्री साहू  ने कहा कि  स्कूल मे कुल 70 बच्चे थे पर शिक्षकों की कमी से पढाई नही होने पर पालको ने 2 बच्चे का स्थानांतरण  प्रणाम पत्र लेकर दूसरे स्कूल  दाखिल कराये है। तीन सालो से स्कूल मे शिक्षक की कमी है अंग्रेजी,  संस्कृत,  सहित अन्य  विषय बच्चे  का प्रभावित हो रहे । बीईओ  बिलाईगढ को लिखित  रूप से जानकारी दिये है । जल्द  व्यवस्था करने की आश्वासन दिया है ।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

बलौदाबाजार: राष्ट्रपिता की 150 वीं जयंती पर हर तहसील में बनेंगे बापू-वाटिका पौधे भले कम लगाए, लेकिन जिंदा जरूर रखें: कलेक्टर

🔊 Listen to this ■ राष्ट्रपिता की 150 वीं जयंती पर हर तहसील में बनेंगे …