Breaking News

Saraipali: सराईपाली रजिस्ट्री कार्यालय एक बाबू के भरोसे, कार्य चल रहा है कछ्वे गती से,लोग हो रहे है परेशान..

सराईपाली रजिस्ट्री कार्यालय एक बाबू के भरोसे, कार्य चल रहा है कछ्वे गती से,लोग हो रहे है परेशान..

सरायपाली। जमीन खरीदी बिक्री की रजिस्ट्री के लिए यहाँ के लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. रजिस्ट्री हेतु उप पंजीयक का पद विगत 2 वर्षों से रिक्त है, जिसके कारण पूरा कार्यभार यहाँ पदस्थ क्लर्क के ऊपर ही रहता है. उसपर आए दिन शासन के नए-नए नियमों और सर्वर डाउन की भी समस्या रहती है. इन समस्याओं के कारण भू-स्वामियों को जमीन की रजिस्ट्री के लिए कई बार कार्यालय का चक्कर काटना पड़ता है। स्थानीय उप पंजीयक कार्यालय में कुल 3 पद स्वीकृत हैं, जिनमें से वर्तमान में केवल एक क्लर्क पर कार्यालय का पूरा प्रभार है. एक ओर जहाँ उप पंजीयक का पद अगस्त 2017 से रिक्त है वहीं भृत्य का भी पद रिक्त है. हाल ही में डायरेक्ट भर्ती के तहत एक उप पंजीयक की नियुक्ति हुई है, लेकिन अब तक उन्होंने कार्यभार ग्रहण नहीं किया है. पूर्व में दिसंबर 2017 ये बसना में एवं नवंबर 2018 से पिथौरा में रजिस्ट्री ऑफिस खुलने से यहाँ रजिस्ट्री करवाने वालों की संख्या में कमी आई है. कुछ लोगों ने आरोप लगाया है कि बिल्डिंग मकान को भी प्लॉट बताकर बिना स्थल निरीक्षण के रजिस्ट्री करवाकर शासन को लाखों रू के टैक्स का चूना लगाया जा रहा है. जो कि नियम विरूद्ध है और स्थल निरीक्षण के पश्चात् ही रजिस्ट्री करवाया जाना चाहिए. कार्यालय में रजिस्ट्री कराने के लिए पहुँचे नरसिंग डडसेना पतेरापाली, लोकनाथ व विरेन्द्र साहू लमकेनी, सुरेन्द्री व जयश्री छिबर्रा, शौकीलाल व सोहनलाल ग्राम भोथलडीह ने बताया कि कई बार कार्यालय में सर्वर डाउन रहता है, जिसके कारण दिन भर रूकना पड़ता है. इसके बावजूद भी कभी-कभी कार्य पूर्ण नहीं हो पाता. इसके अलावा आये दिन शासन के द्वारा नियमों में परिवर्तन व कम्प्यूटर के सॉफ्टवेयर में बदलाव होने के कारण भी रजिस्ट्री कराने में परेशानी हो रही है।
इस संबंध में प्रभारी उप पंजीयक तरूण कुमार ने बिना स्थल निरीक्षण के भी रजिस्ट्री होने की बात पूछने पर बताया कि जिनकी शंका होती है, उनका ही स्थल निरीक्षण किया जाता है. उन्होंने प्रतिदिन 13 से 14 रजिस्ट्री होने की बात कही. जबकि पूर्व में 6 से 7 ही रजिस्ट्री दिन में हो पाती थी. रजिस्ट्री में तेजी होने का कारण उन्होंने वित्तीय वर्ष की समाप्ति भी बताया. साथ ही उन्होंने कहा कि वर्तमान में थोड़ी परेशानी हो रही है, लेकिन नये सिस्टम के तहत प्री रजिस्ट्रेशन की शुरूवात की जा रही है। जिससे आम जनता घर बैठे ही या किसी कम्प्यूटर सेंटर में जाकर जिस दिन वे पंजीयन कराना चाहते हैं, उस दिन के लिए अपना टोकन स्वयं प्राप्त कर सकते हैं।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

डभरा(जाजगीर): 8 वर्षीय लड़की की अपहरण की कोशिश,मामला डभरा थाना का बघौत गांव का…

🔊 Listen to this ■ 8 वर्षीय लड़की की अपहरण की कोशिश,मामला डभरा थाना का …