Breaking News

40 की उम्र में भी जवां बनायें रखेगा अंगूर फेसपैक

फलों में अंगूर सर्वोत्तम माना जाता हैं।अंगूर का इस्तेमाल सिर्फ खाने या फिर शराब बनाने में ही नहीं किया जाता हैं। बल्कि आपको स्वस्थ रखने और आपको सुंदर बनाने में भी किया जाता हैं।अंगूर के रस में अधिक मात्रा में फ्लावोन्वाइड पाया जाता हैं । यह त्वचा को यूवी किरणों से होने वाले नुकसान से बचाता हैं और साथ ही सनबर्न को भी ठीक करता हैं। अगर आपकी त्वचा सूरज की रोशनी के प्रति संवेदनशील है तो आप अंगूर के रस से निजात पा सकते हैं। अंगूर का फेस पैक त्वचा के लिए अच्छा होता हैं । अंगूर में एंटीऑक्सीडेंट की अच्छी मात्रा होती हैं ।

  • कटोरे में कुछ अंगूर ले और खाने के कांटे से उन्हें मसलें । इसमें 1 बड़ा चम्मच जैतून का तेल, 1/2 बड़ा चम्मच दूध, 1/2 बड़ा चम्मच खाने का सोडा मिलाएं और गाढ़ी पेस्ट बनाएं । 5 मिनट के लिए इस मिश्रण को चेहरे पर रगड़े और फिर ठंडे पानी से चेहरा धो लें। यह अंगूर से बना प्राकृतिक फेस क्लींजर है।
  • एक चम्मच अंगूर का रस लें और उसे अपने चेहरे पर लगा लें । फिर इसे 15 मिनट के लिए लगा रहने दें,उसके बाद गर्म पानी से चेहरे को धो लें। ऐसा करने से आपकी त्वचा में नमी आ जाएगी।
  • जैसे-जैसे हमारी उम्र बढ़ती है, त्वचा में ढीलापन आने लगता है। साथ ही साथी, ड्राईनेस बढ़ जाती है और नेचुरल ग्लो कम हो जाता है। बढ़ती उम्र के इन निशानों को छिपाने के लिए वो काले अंगूर, एवोकेडो पल्प, दो चम्मच शहद और गुलाबजल को मिलाकर फेसपैक बनाएं। इसे चेहरे पर 15 मिनट लगाकर रखें। अगर आपके पास एवोकेडो नहीं है तो उसकी जगह केले का पल्प भी इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • इस फल के बीज रक्त धमनियों को मज़बूती देने में मदद करते हैं और त्वचा का ढीलापन कम करके उसे कसी हुई बनाते हैं। इससे आपका चेहरा जवां दिखता है।अंगूर के बीज के तेल में मॉश्चुराइज़िंग तत्व होते हैं। इसमें विटामिन सी और ई पाया जाता है। ये ड्राइनेस को खत्म करते हैं।
  • पैक धोने के बाद साबुन का इस्तेमाल न करें। लेकिन आप मेकअप तुरंत लगा सकती हैं। अपनी त्वचा को साफ और निखार लाने के लिए हफ्ते में एक दिन पैक लगाएं।
Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

बलौदाबाजार: राष्ट्रपिता की 150 वीं जयंती पर हर तहसील में बनेंगे बापू-वाटिका पौधे भले कम लगाए, लेकिन जिंदा जरूर रखें: कलेक्टर

🔊 Listen to this ■ राष्ट्रपिता की 150 वीं जयंती पर हर तहसील में बनेंगे …